कमसिन कम्मो की स्मार्ट चूत

अन्तर्वासना की मेरी प्रिय पाठिकाओ और पाठको,
यह कहानी है गाँव की एक जवान लड़की की… वो मुझे एक शादी के कार्यक्रम में मिली थी. मैं उसकी अनगढ़ अल्हड़ जवानी को चखना चाहता था.

मेरी पिछली कहानी
बहूरानी के मायके में शादी और चुदाई
में मैंने बताया था कि मैं और बहूरानी उनके चचेरे भाई की शादी में दिल्ली पहुंचे हुए थे जहां मैं अपनी अदिति बहूरानी को बंजारन के वेश में देखकर उस पर मोहित हो गया था और येन केन प्रकारेण उसकी मचलती नंगी जवानी को भोगने में कामयाब भी हो गया था.
उसी शादी में मुझे कमलेश नाम की ग्रामीण बाला भी मिली थी जो कि रिश्ते में मेरी बहूरानी की भतीजी लगती थी यानि मैं एक तरह से उसका दादाजी लगता था. कमलेश के बारे में मैंने पिछली कहानी में बड़े विस्तार से लिखा था जिसमें मैंने उसके व्यवहार और रूप रंग और उसकी कामुक चेष्टाओं का विशद वर्णन किया था. कमलेश को सब लोग कम्मो नाम से ही बुलाते हैं तो अब मैं भी उसे इस कहानी में कम्मो नाम से ही संबोधित करूंगा.

तो पिछली कथा में बात यहां तक पहुंची थी कि बहूरानी ने मुझे कहा था कि मैं कम्मो को मार्केट ले जाऊं और उसे नया स्मार्टफोन दिलवा दूं; पैसे तो कम्मो के पास हैं.

तो मित्रो, पिछली कहानी से आपको याद होगा कि पिछली रात हम सब लोग साथ में डिनर कर रहे थे और कम्मो मुझे बड़े प्यार और अनुराग से सर्व कर रही थी … कभी दही बड़े, कभी रसगुल्ला कभी कुछ कभी कुछ. कहने का मतलब यह कि मुझे अपनी जगह पर से उठाना नहीं पड़ा और कम्मो ने काउन्टर से खाना ला ला कर भरपेट से कुछ ज्यादा ही खिला दिया था. उसके इस चाहत भरे खुशामदी व्यवहार को मैं समझ रहा था कि उसे कल मेरे साथ मार्केट जा के नया फोन जो लेना था.

यह कहानी भी पड़े  ऑफिस के अंदर चोदा बरखा को

अब नया फोन लेने की उमंग तरंग क्या कैसी होती है उसका तो हम सबको अनुभव है ही … पर गाँव की कोई लड़की जो अभी तक नोकिया का बाबा आदम के जमाने का टू जी फोन इस्तेमाल कर रही थी, उसका मन कैसे ललचाता होगा स्मार्टफोन की स्क्रीन पर उंगली फेरने को या व्हाट्सएप, फेसबुक पर अपना खुद का अकाउंट खोलने को और सबसे चैट करने को; क्योंकि अब तो ये सब एप्प्स गांव गांव में मशहूर हैं और जब वो दिन आ ही जाए कि बस अपना नया फोन मिलने ही वाला है तब दिल कैसे खुश और बेकरार रहता है, इस अनुभव से हम सब गुजरे हैं कभी न कभी; वही हाल कम्मो का भी था.

तो अगले दिन सवेरे क़रीब नौ बजे मैं और कम्मो मार्केट जाने के लिए तैयार थे. कम्मो सजधज ली थी अपने हिसाब से; वो जितना खुद को सजा सकती थी, उसने सजा लिया था. अच्छे से बाल संवार कर चोटी गूंथ ली, आँखों में काजल डाल लिया और नया सलवार कुर्ता और दुपट्टा, मेहंदी तो उसके हाथों में पहले ही लगी थी; कहने का लब्बो लुआब यह कि वो खुद को जितना टिपटॉप कर सकती थी, उसने कर लिया था. वैसे खूब सुन्दर लग रही थी वो.

“चलें कम्मो?” मैंने कहा.
“अंकल जी एक मिनट, पैसे लेना तो मैं भूल ही गयी.” वो बोली और भागती हुई किसी कमरे में गयी. वापिस लौटी तो उसके हाथ में रूमाल की पोटली सी थी जिसमें उसके पैसे बंधे हुए थे.
“लो अंकल जी. पैसे आप रख लो. बहुत दिनों से जोड़ रही थी मैं फोन के लिए!” वो बोली और रूमाल मुझे दे दिया.

यह कहानी भी पड़े  बगल वाली आंटी की गदराई चूत मारने को मिल गयी

मैंने रूमाल खोला तो उसमें तरह तरह के नोट बेतरतीब ढंग से उल्टे सीधे मुड़ेतुड़े हुए रखे थे; दस, बीस, पचास, सौ … सब तरह के नोट थे. चार छह नोट पांच पांच सौ के भी थे. अब ये लोग तो ऐसे ही पैसे जोड़ के रखते हैं; जब कभी रुपये हाथ आये तो तह करके रूमाल में बांध लिए. मैंने सारे नोट ठीक ढंग से सेट किये और गिने तो कोई आठ हजार चार सौ कुछ निकले. अब ऐसे चिल्लर नोट ले के फोन खरीदने जाना मुझे बड़ा अटपटा सा लग रहा था तो मैंने अपनी बहूरानी अदिति को बुला कर वो नोट उसे दे दिए और कम्मो को समझा दिया कि ऐसे छोटे छोटे नोट लेकर कुछ खरीदने जाना अच्छा नहीं लगता और उसके फोन का पेमेंट मैं कर दूंगा अपने अकाउंट से.

“पापा जी, कम्मो कह रही थी कि इसे लालकिला भी देखना है. तो इसे आप वहां भी घुमा देना पहले, फिर चांदनी चौक या करोलबाग से फोन खरीद देना.” बहूरानी बोली.
“ठीक है बहू. तो तू पहले कोई टैक्सी बुक कर दे लालकिले के लिये” मैंने बहू से कहा तो उसने अपने फोन से ऊबर की कैब बुक कर दी.

कैब शायद कहीं पास में ही थी, तीन चार मिनट में ही आ गयी. मैंने कैब का दरवाजा खोल कर पहले कम्मो को बैठने दिया फिर खुद जा बैठा और हम चल दिए लाल किले की ओर.

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Nukrani sex satory hindididi ki thukai pe thukaiwww antarvasnasexstories com tag garbhvatiसेक्सी स्टोरीज िन हिंदी २०२०xxx se kase maja ata hiA likheParda xxnxx.com bhabhiपति के बगल में सोते हुए दूसरा पति एक्स एक्स एक्स वीडियो डॉट कॉमअपने से आधी उम्र की से सेक्स स्टोरीजमोठी पुच्चीchdakkad ghodi ladki ki kahanibhabhi ko gundo ne choda sex storiesmummy Mein aadami wala kam karunga sex story Hindiभाभी की चूत की मोटी मोटी फांकों की फोटोचुत मे सुहागरात को जबरसती लंड पेलना sabita bhabi meri shachi kahani maa ne mama se chudwayaचुदासा बाप तथा उनके दोस्त हिंदी सेक्स स्टोरीbubs pakdayamaa ki chut me ice-cream sex storie papa NE mere chuche dabaye Hindi sex khaniya antarvasanajhanta to z marathi sex storisचुत मे लंड फचा फचकाली।चूतवासनाKahani fhudai untysheela.xxx.hindi.kahaniचूत चूतpesoe dekar chudai hindimai hu anjali chudai storysadhubaba ne khub chodaie Chacha ki gund ki sexy khanijawani me chudaiXxx भाभी ने बोली देवर जी मुझे पकड़े प्रेग्नेंट कर दोबिलू प्यारे प्यारी की चुदाई सुहागरातhttps://otkrivashki.ru/teatroporno/kaamwali-bai-neelam-ko-choda/Mera kamuk badan aur atript yauvan part 1Chachi ki chudaiफुला चुतअचा चुतफिगर चुतDidi ko kursi pe chodaलडके को अनधेरे मैं पति समझ कर चुदाईfacebook bhabhi sexy story marathiताऊऔर मां कि चुदाई लड की भुखी लडकिया Antarvasnakowara ldka romntik estoriमामी कि मस्त गुलाबी चुत चोदोmasi ko sukh diyaहम चुदाई कर रहे तभी मामी aa gaiGand moti anterwasna suhagrat mukh mathunपेशाब पिलाकर sexy stoAntarvasna sex hindi nude stories photos full 2019मैं हचक कर चुदीसगे भाई बहन साढी सेक्सी कहानीXxy hinde store bebe k adla badlebeta ne mom की kichin me चुदाई की कहानीशादी से पहले भाभी की सील तोडीरेशमि चुत गांड कि कथाGai17.netasadharan rishton me chudaimami.gar.mar.chodai.kiya.kahanifat aurtoko xxx storyaslam ka land chusa hindi sex storyमाँ को बेटा का इन्तजार चुदाई काdesibees माँ को पार्क में चोदासुसत sexpapa ke sath pehla sex rajai me. hindi sex storiesnangi samuhik besaram chudai kahaniramassexसेक्सी स्टोरीज िन हिंदी २०२०सांवली चूतhttps://psylon.ru/sotovyj-operator/randi-aunty-ki-gand-chudai/2/लंड पर उछलने लगीbulu filam ka garl ka bur ka photo chahiyबुआ दीदी ने बुर चोदाना शिखय की कहानी हिन्दी मेकपडे बदलते देख कर चुदाई कहानीयाँ