ससुरजी ने गंद फाड़ डाली

हाई आइ एम आशिका पटेल फ्रॉम गुजरात.मैं एक शादी सुदा औरत हूँ..मैं वैसे हिन्दी सेक्शी कहानियो की रेग्युलर व्यूवर नही हूँ..बस अभी 2 दिन पहले ही किसी के कहने पर मैने साइट देखो ओर मैने स्टोरी पढ़ी..तो मुझे लगा क्यों ना मैं अपने बारे मे कुछ लिखू..मेरी फर्स्ट स्टोरी है तो हो सकता है शायद आप बोर हो या आपको पसंद ना आए..मैं आशिका शादी सुदा हूँ 37 यियर्ज़ की एज है आंड मेरे पति के साथ मैं सूरत मे रहती हूँ.हमारे फॅमिली मे मेरा 4 साल का बच्चा आंड मेरे ससुरजी और हम दोनो है..आज से करीब 10 साल पहले मैं शादी करके आई मेरे हब्बी के घर पर..मैं बहुत खुस थी..मेरे पति मुझे बहोत खुस रखते थे..सास ससुर भी मेरा काफ़ी ख़याल रखते थे मुझे अपनी बेटी की तरह रखते थे..लेकिन बात तब बिगड़ी जब मेरी सास का देहांत हो गया 2 साल पहले.तबसे मेरे ससुरजी की नज़र मुझ पर बिगड़ी है..वो रिटर्मेंट लाइफ जी रहे है इसलिए पूरा दिन घरपर ही रहते है..और बार बार मुझे वासना की नज़र से देखते रहते है..कई बार अगाशी पर सुखाने रखे कपड़ो मे से वो मेरी ब्रा और पॅंटी से खेलते है वो मेने चोरी छुपे देखा है..मेने कई बार सोचा कि अपने पति को सब बता दू कि ससुर क्या कर रहे है..पर मेरा मन नही माना कि क्यों बाप बेटो मे झगड़ा करवाना…कुछ दिन वैसे ही निकल गये..और दिन निकलने के साथ साथ मेरे ससुर की हिम्मत भी बढ़ने लगी..वो मेरे पास चाइ बनाने को कहते और जब मैं चाइ बनाती होती किचिन मे तो वो आजाते मुझे हेल्प करने के बहाने..मुझे कोई ना कोई बहाना बना कर छू ने लगे..एक दिन की बात है मेरे हब्बी सुभह जॉब पर चले गये आंड मेरे लड़के को भी स्कूल पर उतारने को लेके गये..सुबह के 7 बजे थे मैं बाथ के लिए जा ही रही थी मैं ने मेरी ब्रा और पॅंटी ,,टवल बाथरूम मे टाँग दिए थे और अंदर जा कर अपने एक एक करके कपड़े उतारने लगी और पूरी नंगी हो कर जस्ट बाथ लेने ही वाली थी तब मेरे ससुर ने ज़ोर से आवाज़ लगाई अशीईईईईई. …..घर मे मुझे प्यार से सब आशिका की बजाय आशि कहते है..आषीईईईईईईईई जल्दी आओ..उनकी ज़ोर की आवाज़ से मैं डर गयी..और डर के मारे हड़बड़ाती हुई सोचेते हुवे के कुछ असुभ ना हुवा हो तो अच्छा है..मेने फटाफट अंदर रखी हुई मेरी नाइटी पहनी और बाहर आई सिर्फ़ नाइटी पहने..नही मेने अंदर ब्रा पहनी थी या पॅंटी पूरे बदन पर सिर्फ़ एक नाइटी थी वो भी काफ़ी पतली थी कि उसके आरपार आसानी से देखा जा सकता था..

यह कहानी भी पड़े  मेरा मतलब एकदम मस्त बेटी है आपकी - 3

मैने बाहर निकल कर देखा तो वो कही दिखाई नही दिए तो मैने बाहर जाके देखा तो वो गार्डेन मे गिरे पड़े थे..मैं दौड़ती गयी उनके पास और उनको उठाने की कोसिस करने लगी तभी मैने महसूस किया कि वो मेरे नाइटी से दिखाई देने वाले मेरे बूब्स के निपल को देख रहे है ..मैं शर्मा गयी और जैसे बना वैसे उन्हे जल्दी से उठाया..उठते समय उन्होने अपना एक हाथ मेरी गंद पर रख दिया और उन्हे महसूस हो गया कि मैने अंदर पॅंटी भी नही पहनी है…मैं ने पूछा बाबूजी क्या हुवा कैसे गिर गये वो बोले बहू पैर फिसल गया..और गिर गया..माफ़ करना बहू मुझे तुम्हे इस हालत मे बुलाना पड़ा..मैने कहा पिताजी कोई बात नही..आप आराम कीजिए..मैं बाथ लेके आती हूँ..वो बोले बहू मैं कीचड़ मे हो गया हूँ तुम बाद मे नहा लेना मुझे पहले स्नान करलेने दो..उनकी बात सुनकार पहले तो मैं सोच मे पड़ गयी पर मुझे लगा वो मेरे पिताजी जैसे ही है मैने कहा ठीक है पिताजी आप स्नान कर लो…उनके बाथरूम मे घुसने के बाद थोड़ी देर मे वो बाहर निकल गये..और उनके निकलने के बाद मैं नाइटी मे अपने गुप्तँग जो छुप नही रहे थे वो छुपाने की कोसिस करते हुवे अंदर चली गयी बाथ करने के लिए..और मैं मेरी धुन मे और सोच मे ही बाथ करती रही..जब स्नान ख़तम कर कर मैं ने टवल लेने के लिए हाथ बढ़ाया तो मुझे जोरो का झटका लगा वाहा मेरा रखा हुवा टवल नही था..तभी मेरे मन मे शक हुवा कि यह ससुरजी की कोई नयी चाल है फिर मैं ने सोचा कि नही वो जल्दी मे स्नान करने आए थे तो ग़लती से मेरा टवल लेगाए होगे..मैने जैसे तेसे कर के अपने आपको पोछा और अपनी पॅंटी हाथ मे ले कर पहनने जा रही थी कि मुझे कुछ गीला सा लगा मैं ने वापस पॅंटी उतार कर देखा तो अंदर पॅंटी के भाग पर चिप चिपा था कुछ मैं समझ गयी कि मेरे ससुर ने मेरी पॅंटी पर मूठ मारकर अपना वीर्य निकाला है और वो मेरी चूत पर भी थोड़ा थोड़ा लग गया था मुझे बहुत गुस्सा आया..आंड मैने पॅंटी निकाल कर कचरे के डिब्बे मे फेकदी..मैने ब्रा देखा तो उन्होने उसमे भी अपने वीर्य का पानी छ्चोड़ा हुवा था..मुझे इतना गुस्सा आ रहा था कि मन कर रहा था उनका खून कार डालु..मैं ने गुस्से मे आकर अपनी ब्रा भी कचरे के डिब्बे मे फेक दी..और वापस उनके वीर्य वाली चूत को मैने सॉफ किया आंड दूसरी बार भी बाथ लिया..अब मैं सोच रही थी बाहर जाउ तो केसे जाउ क्यों की नही अब मेरे पास टवल था या नही ब्रा पॅंटी..मूज़े गुस्सा आ रहा था और अब पछतावा भी हो रहा था कि मैने क्यों जल्दबाज़ी मैने ब्रा और पॅंटी निकाल कर फेक दी कचरे मे..तभी मुझे ना चाहते हुवे भी ससूजी को आवाज़ लगा नी पड़ी..मैं ने कहा “पिताजी आप मेरा टवल ग़लती से लेके गये है ज़रा मुझे दे दीजिए” उन्होने जवाब दिया”ओह्ह बहू माफ़ करना जल्दबाज़ी मे अपना टवल लेजाना भूल गया था तो तुम्हारा लेलिया””ठहरो मैं तुम्हे दूसरा टवल दे रहा हूँ”मुझे उनपर इतना गुस्सा आ रहा था पर मैं भला कर भी क्या सकती थी..उन्होने मुझे आवाज़ लगा कर कहा ये लो बहू..मैं ने बाथरूम का दरवाज़ा थोड़ा खोलकर हाथ बाहर निकाला और उन्होने मेरे हाथ को टच करते हुवे मुझे टवल दे दिया…मैं ने टवल देखा तो मुझे और भी ज़्यादा गुस्सा आया क्यों कि उन्होने जो टवल दिया था वो एकदम छ्होटी साइज़ का था और उस पर 2 जगह से छोटे छोटे होल भी थे..मैं समझ गयी की आज यह बूढ़ा मुझे छ्चोड़ने वाला नही है..मजबूरी का नाम महात्मा गाँधी..मैने वो टवल से अपना शरीर पोछा अओर अपने बूब्स से टवल को लपेटा तो देखा कि टवल छ्होटा होने की बजाह से वो मेरी चूत को ठीक तरह से नही ढक पा रहा था..तो मैने ना चाहते हुवे टवल को थोड़ा उप्पर से नीचे किया जिसकी बजाह से अब टवल मेरी निपल से नीचे था यानी की मेरे हाफ बूब्स दिख रहे थे..और वो 2 छोटे छोटे होल वो मेरी गंद की साइड पर थे जिससे मेरी गंद का गोरा रंग दिख रहा था…मैं जल्दी से बाहर आई और अपने कमरे मे चली गयी और अंदर से दरवाज़ा बंद कर लिया..बाथरूम से निकलने और रूम मे जाने के टाइम मेरे ससुर ने साले बुढहे ने मेरे जिस्म के भरपूर दर्शन कर लिए थे और मेरा ध्यान उसके पयज़ामे पर गया था उसका लंड तन गया था जोकि उसके पयज़ामे से पता चलता था..

यह कहानी भी पड़े  मेरी रंडी बहन और उसका चुदक्कड़ ससुर

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


लंडभाभिची चूदाईmemsaheb aur nokar sex stiriebhai ab gand mi pelo land meri chut fat gaiSex kahani Hamari bahan ki seal todi jabardastichod kar behos kar diya xxxbfHoli par makan Malkin Ko choda hindihindi sexi kahani ganne ki mithasमेरी छोटी सी चूत मे जब उसका मोटा सा लंड घुसा तो मै बेहोश हो गईantarvasna ग्लानिchudai ki kahani with चोर पुलिसPyaar bhara Pariwar hindi sex storiesrula diya 10 inch ke mota land se sex story hndiमंझली मामी की चुदाईvavi ke cudae khanix chaci ki gandi cudae batey kahaniहिन्दी सेक्स कहानी मामा जी से चोदचुदक्कड़ माँ को लौड़ा दियाviedwa kamvali ki sexye khaneyarat ko aik sath sona pada mai uska gand sahala raha tha sex storyma bate kisecy kshaniBhan ke bobo me land lgayachutmarnahindeuncle ne meri fuddi mote Lund se bajai sex story hindi Nakhreli Mami ki chut chodai khaniचोदकर पेट से कर दियाचुदीअंकल सेमामा का लडं छोटा मैने मामी को चोद कर माँ बनने का सुख दियाAntarvasna didi sdisuda holiमा कि सहेलि कि चोदाई कहानिचुदाई की कहानी जबरदस्ती बदला रन्डी पेसाब गालियासेक्स हिंदी stories sale ki biwibhai bhin sex storees xxxbhai ab gand mi pelo land meri chut fat gaibhabiko chodke bibibanaya sex storisगरम वीर्य जड सेक्स स्टोरीखेतों में सलहज की चुदाई कीnancy ki xxx kahanimaa ki kokh bhar de sex storiesdaru ke nashe me chudai nonveg story.मुझे चोदने आओगे ना हिन्दी सेक्स कहानियांpapa ki pari papa se chudisixe कहानी perd mako cuodaअंतरवाशना बाथरुम मे पडी पैँटी मेँ मुठ मारी बहेन कीsex story padosan bhabhi ki chudayi ki pyas akele me bahane se shararatMalaren chut pronchudai sat dinpron pelo wesa ki ladki bhi yad rkhesex baba storie taije comwww antarvasnasexstories com incest sasur bahu kamvasna chudai part 7Sex stories. Behan ka gift गालिया देकर साहब ने चोदा कुँवारी नोकरानी कौ चाची की अन्तर्वासनाbhuva ne mujhse seal tudvai sex storrynanad bahanchod bhabhi saheliकरवा चौथ में चुदाई इन्सेस्टmeri chudked didiसोतेली बहन की चुदाईnokarani ki tushan xxx kahanibabhi sex story imagrबुर जुजी का साफ साफ फोटो बताएHindi main gali dedekar chudayi hot sexy sex storydidi ne bur dilaye cudai kahaniporn bhabhi ko nind me ghused diyaचाची को दिल्ली मे बुलाये के चूदाई की कहानी भाभी और पेंटी को बाथरुमे चौदा काहणीयाsunil ne muslim ladki ko Sex Storiesghabrati Hui ladki ki chudaiGair ke sath sex story bideshसामूहिक merivasnaभाभी बोली अरे तुम चोदौमारवाडी चुडाईkay hotay ha xxxx valy sugeratsex story didi masajkarke chodaSade suda bahan ko choda romantic hindi kahaniजवान बेटी को चोदना सिखायाchudwaya3 logo seबारिस मे चोदा sex babaकच्ची उम्र मे शील तोड़ी स्टोरीmami ka doodh piya